Stay Tuned
Subscribe To Our Newsletter

Login







Immortal Rajput Love Story Of Mumal And Mahendra | मुमल और महेंद्र की अमर राजपूत प्रेम कहानी
blog

Immortal Rajput Love Story Of Mumal And Mahendra | मुमल और महेंद्र की अमर राजपूत प्रेम कहानी

By on April 25, 2018

Immortal Rajput Love Story Of Mumal And Mahendra | मुमल और महेंद्र की अमर राजपूत प्रेम कहानी

 

आज हम उमरकोट (अब पाकिस्तान में) के राणा महेंद्र और मुमल की राजपूताना प्रेम कहानी के बारे में बात करेंगे। एक बार महेंद्र शिकार के लिए गए,  वहीं मुमल ने उन्हें पहली बार देखा और उनके व्यक्तित्व ने उसे बहुत आकर्षित किया। धीरे-धीरे दोनों ने मिलना शुरू कर दिया और उनका प्यार परवान चढ़ने लगा। तेज रफ्तारवाले ऊंट पर सवार होकर महेंद्र, मुमल से मिलने के लिए हर रोज सौ कोस दूर उमरकोट से जैसलमेर हर रात जाया करते थे। लेकिन जल्द ही, परिवार के सदस्यों को महेंद्र के प्यार के बारे में पता चल गया और उन्होंने उस ऊंट के पैर तुड़वा दिए जिस पर सवार होकर महेंद्र जैसलमेर जाता था। लेकिन महेंद्र ने हार नहीं मानी और एक और ऊंट तैयार करवाया, लेकिन गलती से, वह जैसलमेर के बजाय बाड़मेर पहुंचे। जब उन्हें अपनी गलती का एहसास हुआ, तो वे जैसलमेर की ओर वापस चल पड़े जैसलमेर में, मुमल उत्सुकता से उनका इंतज़ार कर रही थी। मुमल और उनकी बहनें एक-दूसरे का मनोरंजन करने के लिए अलग-अलग कपड़े पहन रही थीं। तभी एक आदमी के कपड़े पहने हुए मुमल की बहन उसके साथ बिस्तर पर सो रही थी। इस बीच, महेंद्र काक महल पहुंचे और देखा कि मुमल किसी किसी व्यक्ति के साथ सो रही थी। उन्हें यह देख बहुत गुस्सा आया और वह वापिस जाने लगे। बाद में, जब मुमल को इसके बारे में पता चला, तो वह बहुत दुखी हुई और आखिरकार उसे अपनी निर्दोषता साबित करने के लिए आग में जलना पड़ा। जब महेंद्र को इसके बारे में पता चला, तो वह महल की तरफ तेजी से दौड़ा, लेकिन तब तक मुमल पूरी तरह से आग में भस्म हो चुकी थी। मुमल को जलता देखकर, महेंद्र ने भी उसी आगा में अपने प्राण दे दिए।

 

loading…


TAGS
RELATED POSTS

LEAVE A COMMENT