Login





The First Military Attack On The British By INA | आईएनए द्वारा अंग्रेजों पर पहला सैन्य हमला
blog

The First Military Attack On The British By INA | आईएनए द्वारा अंग्रेजों पर पहला सैन्य हमला

By on May 21, 2018

The First Military Attack On The British By INA | आईएनए द्वारा अंग्रेजों पर पहला सैन्य हमला

 

नेताजी सुभाष चंद्र बोस के नेतृत्व में भारतीय राष्ट्रीय सेना ने 14 अप्रैल 1 9 44 को इम्फाल के पास (मोइरंग) ब्रिटिश सेना को बुरी तरह से पराजित किया था। यह वही क्षेत्र था जहां पहली बार हमारा तिरंगा झंडा फहराया गया था और इस  क्षेत्र में पहली बार सैनिकों ने राष्ट्रीय गान गाया था। सुभाष चंद्र बोस और उनकी भारतीय राष्ट्रीय सेना के वीर प्रयासों ने अंततः अंग्रेजों पर अपनी पकड़ बनाना शुरू कर दिया था। लेकिन यह तो नेताजी के जीत के सफर की सिर्फ एक शुरुआत थी। भारत में, भारतीय राष्ट्रीय सेना ने ब्रिटिश साम्राज्य के कई हिस्सों पर कब्जा कर लिया था। यह कहना गलत नहीं होगा कि अगर गांधी जी का अस्तित्व नहीं होता तो हम नेताजी के नेतृत्व में एक महान तरीके से आजादी हासिल कर सकते थे। यह उन मुख्य घटनाओं में से एक थीं जिसने अंग्रेजों को भारत छोड़ने के लिए मजबूर किया। लेकिन यह एक बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि भारतीय राष्ट्रीय सेना के वो  बहादुर सैनिकों, जिन्होंने देश की आजादी के लिए अपने प्राणों की बाजी लगा दी, उन्हें अब तक स्वतंत्रता सेनानियों का दर्जा नहीं मिला है। क्या ऐसा इसलिए है क्योंकि भारतीय राष्ट्रीय सेना और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अलग-अलग विचार थे ?

 

TAGS
RELATED POSTS
1 Comment
  1. Reply

    read what he said

    May 31, 2018

    Definitely, what a splendid blog and illuminating posts, I surely will bookmark your site.All the Best!

LEAVE A COMMENT