Stay Tuned
Subscribe To Our Newsletter

Vivo V9 (19:9 FullView Display, Pearl Black) with Offers
M.R.P.: 23,990.00
Our Price: 22,990.00

Login







Vivo V9 (19:9 FullView Display, Pearl Black) with Offers
M.R.P.: 23,990.00
Our Price: 22,990.00

blog

Beautiful Princesses Of Royal India | शाही भारत की खूबसूरत राजकुमारियां

By on April 2, 2018

Beautiful Princesses Of Royal India | शाही भारत की खूबसूरत राजकुमारियां

 

राजकुमारियों से संबंधित कहानियां हमेशा लोगों के दिलों को जीतती हैं। भारत के शाही इतिहास में ऐसी कई राजकुमारियों के नाम दर्ज है, जो सदैव अपनी जीवन शैली और प्रेम के लिए चर्चा में रही। जब हम राजकुमारी शब्द सुनते हैं तो उनकी खूबसूरती का ख्याल हमारे जेहन में सबसे पहले आता है।

शाही भारत की खूबसूरत राजकुमारियों के नाम इस प्रकार हैं :-

  • संयुक्ता (Samyukta) :- संयुक्ता कन्नौज के राजा जयचंद की पुत्री थी। संयुक्ता के पति पृथ्वीराज चौहान दिल्ली के राजा थे। वह राज्य भर में अपने आकर्षक सौंदर्य के लिए प्रसिद्ध थी। संयुक्ता और पृथ्वीराज की प्रेम कहानी मध्ययुगीन भारत की सबसे लोकप्रिय कहानी है। संयुक्ता की सुंदरता के चर्चे उस समय हर राज्य में हुआ करते थे। जब पृथ्वीराज ने संयोगिता की सुंदरता के बारे में सुना तो वह उसी समय उनके प्यार में गिर गए थे।

 

  • रानी पद्मिनी (Queen Padmini) :- राजकुमारी पद्मिनी, जिन्हें पद्मावती भी कहा जाता है। पुरे सिंघल द्वीप में राजकुमारी की खूबसूरती प्रसिद्ध थी। पद्मावती राजा गंधर्व और चंपावती की बेटी थीं। राजा गंधर्व ने अपनी बेटी के विवाह के लिए एक भव्य स्वयंवर का आयोजन किया; राजाओं को दूर से बुलाया गया था। पद्मवती से शादी करने का सपना उस समय लगभग सभी राजा देखते थे।

 

  • महारानी गायत्री देवी (Maharani Gayatri Devi) :- गायत्री देवी को जयपुर की राजमाता के रूप में भी जाना जाता है। वह कूच बिहार की राजकुमारी गायत्री देवी के रूप में जन्मी थी। 1 9 40 से 1 9 4 9 तक वह जयपुर की तीसरी महारानी बनी। उनका महाराजा सवाई मान सिंह द्वितीय से विवाह हुआ था। पूरी ज़िन्दगी वो अपनी खूबसूरती की वजह से चर्चा में रही थी। वह एक फैशन आइकॉन थी, जो सभी महिलाओं को काफी प्रेरित करती थी। गायत्री देवी का नाम कई भारतीय और विदेशी पत्रिकाओं में प्रकाशित हुआ था।

 

  • सीता देवी (Sita Devi) :- सीता देवी, बड़ौदा की महारानी, ​​तेलुगू परिवार में पैदा हुई थी। सीता देवी पिठापुरम के महाराजा की बेटी थी। जीवन शैली की वजह से उन्हें “इंडियन वालिस सिम्पसन” के नाम से जाना जाता था। बड़ौदा के महाराजा प्रताप सिंह गायकवाड़ के साथ उनकी दूसरी शादी हुई थी। वह काफी खूबसूरत और रंगीन मिजाज की महिला थी।

 

  • विजया देवी (Vijaya Devi) :- विजया देवी युवराज कन्तेराव नरसिंह राजा वाडियार की सबसे बड़ी बेटी। एक राजकुमारी के साथ-साथ वो वीणा और कर्नाटिक संगीत में काफी निपुण थी। उन्होंने लंदन के ट्रिनिटी कॉलेज और न्यूयॉर्क के जूलियर्ड्स स्कूल से म्यूजिक की शिक्षा ग्रहण की थी। कोटदा-सांगानी के ठाकुर साहेब का साथ 1941 में उन्होंने शादी कर ली। वह एक महान पियानोवादक थी और भारतीय इतिहास में सबसे सुंदर राजकुमारियों में से एक थी।

 

  • सीता देवी (Maharani of Kapurthala) :- उन्हें राजकुमारी कारम के नाम से जाना जाता था। वह अपने समय की आकर्षक महिलाओं में से एक थी। उनके पिता कुमाऊं के राजा थे। महाराज जगत्जित सिंह के छोटे बेटे करमजीत सिंह के साथ उनकी शादी हुई थी। अपने समय में वह उपमहाद्वीप में सबसे खूबसूरत महिला थी और उसे कई यूरोपीय भाषाओं का भी ज्ञान था। बुद्धि के साथ सौंदर्य का वो एक अद्भुत उदाहरण थी।

 

  • रानी लक्ष्मीबाई (Rani Lakshmi Bai) :- लक्ष्मीबाई का जन्म वाराणसी के ब्राह्मण परिवार में हुआ था। उनके माता-पिता ने उनका नाम  मणिकर्णिका रखा था। झांसी के राजा गंगाधर राव से विवाह करने के बाद लोग उन्हें लक्ष्मीबाई कहकर बुलाने लगे थे। लक्ष्मीबाई झांसी की मराठा-शासित राज्य की रानी थी। लक्ष्मीबाई को झांसी की रानी के रूप में भी जाना जाता है। इतिहास में वे भारत के महान योद्धाओं में गिनी जाती हैं।

 

  • मीराबाई (Meerabai) :- मीराबाई एक हिंदू कवि और भगवान कृष्ण की भक्त थी। वह अपनी पवित्र कविताओं और गीतों के लिए काफी प्रसिद्ध थी। मीराबाई राजस्थान के राजपूत शाही राठौर परिवार में पैदा हुई थी। कृष्ण प्रेम की भक्ति में, उनकी खुशी और उनकी धार्मिक आभा ने उन्हें एक राजकुमारी का दर्जा दिया।

 

  • नूर इनायत खान (Noor Inayat Khan) :- नूर इनायत खान अपने पिता हजरत इनायत खान की सबसे बड़ी बेटी थीं। वह द्वितीय विश्व युद्ध में विशेष कार्यवाहक कार्यकारी के लिए प्रसिद्ध थी। वह ब्रिटेन की पहली मुस्लिम युद्ध नायिका भी थी। जर्मनी के डेकाऊ एकाग्रता शिविर में उनका निधन हो गया था। जब उनकी मृत्यु हुई तब वह केवल ३० वर्ष की थी। एक राजकुमारी होने के बाद भी उन्होंने अनुकरणीय और अनुशासित जीवन व्यतीत किया था।

 

  • एककादेवी (Akkadevi) :- एककादेवी कर्नाटक के चालुक्य राजवंश की राजकुमारी थी। पश्चिमी चालुक्य साम्राज्य अक्कादेवी के हिस्से में आता था और उनकी सुंदरता उनकी क्षमताओं को व्यक्त करती थी। उन्हें Gunadabdangi के नाम से भी जाना जाता था, जिसका अर्थ है “गुणों की सुंदरता”। एककादेवी के शासन के दौरान शिक्षा को बहुत महत्व दिया जाता था। हिंदू और जैन मंदिरों पर उनके विचार काफी उदार थे।

Micromax Canvas Tab P70221 16 GB 7 inch with Wi-Fi+3G Tablet

Micromax Canvas Tab P70221 16 GB 7 inch with Wi-Fi+3G Tablet
List Price: Rs.7999
Our Price: Rs.4799

Flipkart

TAGS
RELATED POSTS

LEAVE A COMMENT