Login






Who Is Brahmin? | ब्राह्मण कौन है?
blog

Who Is Brahmin? | ब्राह्मण कौन है?

By on June 26, 2018

Who Is Brahmin? | ब्राह्मण कौन है?

 

यह कहना गलत नहीं होगा की विश्व में अकेला ब्राह्मण ही चाहता है कि आप के घर में हमेशा शुभ कार्य होते रहे। भगवान कृष्ण ने एक बार कहा था कि, बनिया धन का भूखा होता है, गरीब व्यक्ति को अन्न की भूख और क्षत्रिय को दुश्मन के रक्त की प्यास होती है। लेकिन केवल ब्राह्मण ही है जिसे केवल सम्मान और प्रेम की भूख है। सम्मान के आगे ब्राह्मण अपनी जान की भी फिक्र नहीं करता। अगर मुसलमान अशफाक उल्ला खान हमारी ओर दोस्ती का हाथ बढ़ाता है, तो हम बिस्मिल बनकर उसे अपने गले से लगा लेते है। जब क्षत्रिय चन्द्रगुप्त ने शिष्य बनकर चरण स्पर्श किये, तब हमने चाणक्य बनकर पूरा भारत ही जिता दिया। भगत सिंह ने आजादी के लिए उड़ान भरनी शुरू की तो हमने चंद्रशेखर आजाद बनकर उसकी उड़ान को पंख लगा दिया। जब कोई शुद्र शबरी के रूप में हमसे वर मांगती है, तो हम उसे भगवान के दर्शन करवा देते है। यहाँ तक की पुराणों में भी कहा गया है कि जिस स्थान पर ब्राह्मणों  का पूजन हो वहां तो देवता भी निवास करते है, अर्थार्थ वह स्थान निरर्थक है अगर वहाँ ब्राह्मणों का सम्मान न हो। इसलिए श्री कृष्ण ने कहा था कि ब्राह्मण यदि वेद से हिन् भी हो तब भी उसका अपमान नहीं किया जाना चाहिए। क्योंकि तुलसी का पत्ता चाहे कितना भी छोटा क्यों न हो वो हर रूप में कल्याण ही करता है। वेदों में कहा गया है की ब्राह्मण जो हैं, वो भगवान के मुख में निवास करते है। वेदों में कहा गया है कि ब्राह्मण जो कि भगवान के मुख में निवास करते है, इसलिए इनके मुख से निकला हर शब्द भगवान के शब्दों को दर्शाता है। इसलिए तो भगवान ने ब्राह्मणों के लिए ये शब्द कहे थे। ये ब्राह्मणों की ही कृपा है इसलिए मैंने धरती को धारण कर रखा है अन्यथा किसी अन्य पुरुष के लिए इतना भार उठाना सम्भव नहीं है, ब्राह्मणों के  आशीर्वाद से ही नारायण बनकर मैंने माता लक्ष्मी को वरदान में पाया है, उन्ही के आशीर्वाद से मैंने कई युद्धों में विजय प्राप्त की है, और ब्राह्मणों के कल्याण से ही राम का नाम जग में अमर हुआ है।

 

loading…


TAGS
RELATED POSTS
1 Comment
  1. Reply

    TheWanderingQuinn

    June 27, 2018

    Thanksa lot for the article post.Much thanks again. Fantastic.

LEAVE A COMMENT